Breaking News

किसान आंदोलन:23 जनवरी को रायपुर में ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे किसान, राजभवन का घेराव करेंगे

छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ में शामिल संगठनों के किसान पिछले कई दिनों से दिल्ली के सिंघु बार्डर पर चल रहे आंदोलन में शामिल हैं। आज छत्तीसगढ़ के किसानों ने वहां रैली निकालकर कृषि कानूनों का विरोध किया। - Dainik Bhaskar

केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच 10वें दौर की बातचीत बेनतीजा खत्म होने के बाद छत्तीसगढ़ के किसान आंदोलित हैं। किसान संगठन 23 जनवरी को राजधानी रायपुर में ट्रैक्टर मार्च की तैयारी कर रहे हैं। उनकी कोशिश ट्रैक्टर रैली के जरिए राजभवन का घेराव करने की है।

छत्तीसगढ़ किसान-मजदूर महासंघ संयोजक मंडल के सदस्य डॉ. संकेत ठाकुर ने बताया, 23 जनवरी को खेती बचाओ यात्रा के तहत राजधानी रायपुर में राजभवन का घेराव ट्रेक्टर मार्च के द्वारा किया जायेगा। इसकी तैयारियां जोरो पर हैं।

खेती बचाओ यात्रा बिलासपुर, रायगढ़, धमतरी, महासमुंद, बालोद, गरियाबंद, दुर्ग, बलौदा बाजार, मुंगेली, बेमेतरा, कवर्धा, राजनांदगांव, कांकेर, कोण्डागांव जिलों में चल रही है। इसके तहत धान खरीदी केंद्रों और तहसील, विकासखण्ड व जिला मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन-नुक्कड़ सभाएं की जा रही हैं।

डॉ. ठाकुर ने बताया, पिछले दिनों आरंग क्षेत्र के खौली, भानसोज, रीवा, भिलाई जैसे गांवों में पारस नाथ साहू, द्वारिका साहू, रूपन चन्द्राकर, श्रवण चन्द्राकर आदि ने किसान बइठका का आयोजन किया था। यहां किसानों ने 200 ट्रेक्टर के साथ 23 जनवरी की रायपुर रैली में जाने का संकल्प व्यक्त किया है।

एक और जत्था जाएगा दिल्ली

डॉ. संकेत ठाकुर ने बताया, छत्तीसगढ़ के किसानों का एक जत्था 23 जनवरी को ट्रेन से दिल्ली के लिए रवाना होगा। 200 से अधिक किसानों का एक जत्था ट्रकों से पहले ही दिल्ली के सिंघु बार्डर पहुंच चुका है। कई किसान छोटे-छोटे समूहों में भी दिल्ली पहुंच चुके हैं।

न्यूज़ शेयर करें

Check Also

राहुल गांधी ने मोदी सरकार के सामने रखीं दो मांगें, बोले- बिना रुकावट हो ऑक्सीजन सप्लाई और सबको फ्री में लगे वैक्सीन

देश भर कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच उबरती ऑक्सीजन, वेंटिलेटर्स, हॉस्पिटल बेड …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *